Nov 14, 2017

रेलवे के रिटायर पुल से करते हैं लोग आवाजाही



सहरसा-मानसी के बीच आज भी कोई सीधी सड़क नहीं है। लाखों की आवादी पगडंडियों एवं अंग्रेज के बनाए हुए रिटायर रेल पुल से आवागमन करने को विवश हैं। हालात ऐसे हैं कि इस हाईटेक युग में भी लोग जान को जोखिम में डालकर रेलिंग विहीन पुल से आवाजही करते हैं।
इससे दुर्घटना की आशंका रहती है। पिछले दिनों ही बाइक सहित तीन लोग पुल को पार करने के दौरान गिर गए थे। इसमें एक को तो किसी तरह बचा लिया गया पर दो का अब तक पता नहीं चल पाया है। हर बार सरकार द्वारा मृतक के परिजनों को मुआवजा देकर मामले का शांत करा दिया जाता रहा है लेकिन सड़क एवं पुल राजनीति के पेंच में फंसा हुआ है। दरअसल में सहरसा के सलखुआ प्रखंड और खगड़िया चौथम प्रखंड के दर्जनों गांव कोसी, बागमती सहित चार नदियों से घिरा हुआ है। सहरसा-खगड़िया को जोड़ने वाली कोई सीधी सड़क नहीं है। लोगों को कई नदियां पार कर आवागमन करना मजबूरी बना हुआ है।
Source-Live Hindustan